Close

इंटरनेट/ डेटा कॉम सेवाएं

डेटा संचार सेवाएँ

एसटीपीआई 1993 से डेटा संचार सेवा प्रदाता के रूप में अगुआ रहा है । एसटीपीआई-बंगलूरू ने वर्ष 1993 से इन्टेलसैट एफ़ 3 स्टैण्डर्ड अर्थ स्टेशन (ईएस) द्वारा एसटीपी इकाइयों को पहला अंतर्राष्ट्रीय गेटवे के रूप में एनx64 डेटा संचार कनेक्टिविटी प्रदान किया है। एसटीपीआई ने अपने आरएफ़/माइक्रोवेव द्वारा उपभोक्ता परिसर को लास्ट मील कनेक्टिविटी(पॉइंट-टू-पॉइंट) प्रदान करनी शुरू की है। उस समय एसटीपीआई भारत में इन्टरनेट सेवाओं के लिए पॉइंट टू मल्टी पॉइंट माइक्रोवेव रेडियो नेटवर्क प्रदान करने वाल पहला संगठन था। अर्थ स्टेशन के 30 किमी के दायरे में स्थित एसटीपी इकाइयां लाइन-ऑफ़-साईट पॉइंट-टू-मल्टीपॉइंट टीडीएमए माइक्रोवेव लिंक के माध्यम से जुड़ी हुई हैं।

एसटीपीआई सॉफ्टनेट सेवा प्रदान करता है और गुणवत्ता के प्रति जागरूक भारतीय सूचना प्रौद्योगिकी उद्योग के डेटा संचार की जरूरतों को पूरा करता है। सॉफ्टनेट सर्विसेज नामक एकीकृत नेटवर्क सेवा अपतटीय विकास करने वाले सॉफ्टवेयर निर्यातकों को इंटरनेट लीज्ड लाइन कनेक्टिविटी प्रदान करता है,जिसमें प्वाइंट-टू-पॉइंट इंटरनेशनल प्राइवेट लीज्ड लाइन कनेक्टिविटी (आईपीएलसी) और सॉफ्टलिंक सेवा प्रदान करने वाली सॉफ्टपॉइंट सेवा शामिल है ।

एसटीपीआई के पास सेवा क्षेत्र के रूप में अखिल भारतीय श्रेणी-क की इंटरनेट सेवा प्रदाता(आईएसपी) लाइसेंस भी है।वास्तव में, एसटीपीआई भारत का पहला वाणिज्यिक इंटरनेट सेवा प्रदाता है और मल्टी-एक्सेस रेडियो नेटवर्क के माध्यम से डिजिटल प्राइवेट लाइन की पेशकश करने वाली पहली संस्था है।एसटीपीआई की राष्ट्रीय सेवा वितरण और प्रबंधन संरचना में 53 स्वतंत्र गेटवे शामिल हैं ।

विशेषताएं

सॉफ्टनेट की मुख्य विशेषताएं निम्नलिखित हैं:

  • उच्च सुरक्षा और विश्वसनीयता - पॉइंट-टू-पॉइंट और समर्पित लिंक दूरसंचार नेटवर्क के माध्यम से अधिकतम सुरक्षा और विश्वसनीय संचारण प्रदान करता है ।
  • लागत प्रभावी - अंतरराष्ट्रीय संचार में पर्याप्त मात्रा में लागत बचाता है ।
  • एंड-टू-एंड सेवाओं के प्रबंधन के लिए नवीनतम नेटवर्क प्रबंधन टूल का उपयोग किया जाता है ।
  • 64केबीपीएस से अधिक के बैंडविंथ।
  • व्ही.35,ज़ी.703 आदि एंड इंटरफ़ेस उपलब्ध हैं।
  • सभी समर्थन सेवाओं के लिए सिंगल पॉइंट कॉन्टैक्ट।
  • इन्टरनेट में फाल्ट लॉग उपलब्ध है ।

लाभ

  • सभी स्तरों पर नेटवर्क आधिक्य(अर्थात् संचारण स्तर पर इन्टरनेट गेटवे को अंतिम मील, राउटर, स्विच और कनेक्टिविटी) ।
  • मल्टी-होम गेटवे के साथ सुदृढ़ नेटवर्क।
  • योग्य तकनीकी टीम द्वारा 24x7x365 तकनीकी सहायता।
  • ऑनलाइन बैंडविड्थ आँकड़े,जो बैंडविड्थ के उपयोग की निगरानी करने और भविष्य की उसकी आवश्यकताओं का पूर्वानुमान लगाने में ग्राहक को सक्षम करेंगे।
  • आईएसओ / आईएसएमएस / एसएमएस प्रमाणित संगठन।
  • 99.5% से अधिक का सेवा स्तर समझौता अपटाइम।
  • विद्यमान इंटरनेट लीज्ड लाइन सर्विस ग्राहकों के लिए डिमांड सेवा पर बैंडविड्थ।

अंतिम मील कनेक्टिविटी(स्थानीय लूप)

आईटी उद्योग का 90 के दशक के प्रारंभ से ही विकास हो रहा था और बैंडविड्थ की काफी अधिक मांग भी थी। हांलाकि अंतरराष्ट्रीय बैंडविड्थ उपलब्ध था, अंतिम मील कनेक्टिविटी की कमी थी। अंतिम मील कनेक्टिविटी की चुनौतियों का सामना करने के लिए एसटीपीआई ने माइक्रोवेव नेटवर्क सुविधा प्रदान किया ताकि ग्राहकों की तत्काल जरूरतों को पूरा किया जा सके। प्वाइंट-टू-प्वाइंट रेडियो नेटवर्क को शामिल कर इस नेटवर्क को और मजबूत किया गया, ताकि अंतिम मील कनेक्टिविटी पर 2 एमबीपीएस या अधिक के बैंडविड्थ की डिलीवरी हो सके।

एसटीपीआई माइक्रोवेव लिंक को डिजाइन करने के लिए नवीनतम सॉफ्टवेयर टूल्स का उपयोग करता है और कार्यान्वयन से पहले इनका इन-हाउस परीक्षण किया जाता है। समय के साथ डेटा संचार के उपयोग के लिए एसटीपीआई सबसे बड़े माइक्रोवेव नेटवर्क में से एक बन गया है और अब एक वास्तविक मल्टी-वेंडर नेटवर्क बन गया है।

इस सहस्राब्दी के बाद निजी ऑपरेटरों ने इस सेगमेंट में भाग लिया जिस कारण तांबे और फाइबर के माध्यम से अंतिम मील कनेक्टिविटी सेवा प्रदान करना एक वास्तविकता बन गई है। एसटीपीआई ने सभी प्रमुख सेवा प्रदाताओं जैसे बीएसएनएल, भारती,आदि के साथ मिलकर कॉपर और फाइबर द्वारा अंतिम मील की सेवा स्थापित की। तांबा/ फाइबर द्वारा अंतिम मील सेवा की गुणवत्ता में काफी सुधार हुआ है जैसे कि विलम्ब में कमी, अनेक प्रकार के विकल्प की उपलब्धता,आदि। अंतिम मील सेवा प्रदाताओं ने अंतिम मील को इस तरह से डिज़ाइन किया है कि फाइबर ग्राहक के परिसर के काफी निकट उपलब्ध हो जाता है जो यह सुनिश्चित करता है कि अंतिम मील कनेक्टिविटी ग्राहक के परिसर से कुछ दुरी पर ही उपलब्ध हो। उपर्युक्त सभी सेवा प्रदाताओं के फाइबर स्विच एसटीपीआई एनओसी पर स्थित हैं, जो सेवा प्रदान करने के समय को कम करता है और समस्या निवारण के मामले में दक्षता बढ़ाता है।

वापस शीर्ष पर